[PMMVY] गर्भावस्था सहायता योजना 2020 | प्रधान मंत्री मातृ वंदना आवेदन फॉर्म 2020 | Pregnant Women Yojana 2020

By | October 11, 2020

गर्भावस्था सहायता योजना (Pregnancy support plan): प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गर्भावस्था के समय महिलाओं को आर्थिक सहायता देने के लिए “गर्भावस्था सहायता योजना” की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को गर्भावस्था के समय ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इन पैसों को सरकार के द्वारा महिलाओं के  बैंक बचत खाते में प्रदान किया जाएगा। इस योजना का उद्देश्य गरीब तबके की महिलाओं को गर्भावस्था के समय सही पोषण प्राप्त करवाने के लिए आर्थिक सहायता देना है।

हमारे देश में गर्भावस्था के समय गरीब महिलाओं को आवश्यक पोषण प्राप्त नहीं हो पाता। जिस कारण बच्चे और मां पर इसका प्रभाव पड़ता है। कभी-कभी पोषण की कमी के कारण बच्चे की मृत्यु भी हो जाती है।इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को आर्थिक सहायता के अलावा आवश्यक दवाइयां, खाद्य पदार्थ भी उपलब्ध कराए जाएंगे।

गर्भावस्था सहायता योजना

महिलाओं को गर्भावस्था के समय आर्थिक तंगी से बचाने के लिए सरकार के द्वारा ₹6000 की राशि को तीन किस्तों में प्रदान किया जाएगा।

गर्भावस्था सहायता योजना

गर्भावस्था सहायता योजना

(1). प्रथम किस्त – सरकार के द्वारा प्रथम किस्त महिला के आंगनवाड़ी या स्वास्थ्य केंद्र में पंजीकरण करवाने पर प्राप्त होगी। इस किस्त ₹1000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

(2). द्वितीय किस्त – सरकार के द्वारा द्वितीय किस्त को गर्भावस्था के 6 महीने पूर्ण होने पर दी जाएगी। इस किस्त में ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

(3). तृतीय किस्त – सरकार के द्वारा तृतीय किस्त को डिलीवरी होने के बाद बच्चे के सभी टीकाकरण पूर्ण हो जाने पर ₹3000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए पात्रता

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए पात्रता मापदंड (Eligibility Criteria for Pregnancy Support Scheme) ;

1.  इस योजना का फायदा जनवरी 2019 के बाद गर्भवती हुई महिलाओं को ही मिल पाएगा।

2.  इस योजना का पात्र होने के लिए महिलाओं की उम्र 19 वर्ष से ज्यादा होनी चाहिए।

3.  इस योजना का फायदा कोई भी सरकारी महिला प्राप्त नहीं कर सकती हैं।

4.  इस योजना का फायदा उन्हीं महिलाओं को मिलेगा जो अन्य किसी गर्भावस्था पेंशन प्राप्त नहीं कर रही है।

5.  इस योजना के लिए महिलाओं के पास अपना बैंक बचत खाता होना चाहिए।

6.  इस योजना का फायदा 1 लाख से कम वार्षिक आय वाली महिलाओं को ही प्राप्त होगा।

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए पात्रता मापदंड के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents required for eligibility criteria for pregnancy support scheme) ;

1.  महिला का आधार कार्ड.

2.  महिला का मातृत्व कार्ड (अगर बना है तो).

3.  महिला के माता-पिता का आधार कार्ड.

4.  राशन कार्ड.

5.  बैंक बचत डायरी की फोटोकॉपी.

6.  मोबाइल नंबर.

7.  चार पासपोर्ट साइज फोटो.

8.  बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र.

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए आवेदन

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए आवेदन करने का तरीका (How to apply for a pregnancy support plan) ;

गर्भावस्था सहायता योजना के लिए मात्र ऑफलाइन ही आवेदन किया जा सकता है। इस योजना में तीन किस्त प्राप्त करने के लिए तीन प्रकार के फॉर्म समय-समय पर पड़ने पड़ते हैं। इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको:

1.  महिला व बाल कल्याण मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट https://wcd.nic.in/ से फॉर्म को डाउनलोड करना होगा। इस फॉर्म को आप आंगनवाड़ी केंद्रों व स्वास्थ्य सामुदायिक केंद्र से भी प्राप्त कर सकती है।

2.   फॉर्म में दिए गए सभी ऑप्शन भरकर अपने सभी दस्तावेजों के साथ आंगनवाड़ी केंद्र या सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जमा करवाना होगा।

3.  फॉर्म के जमा होने के कुछ दिनों के बाद यह फॉर्म अप्रूव हो जाएगा और 1000 रूपए की पहली किस्त आपके बैंक बचत खाते में आ जाएगी।

4.  द्वितीय किस्त की प्राप्ति के लिए गर्भावस्था के 6 महीने के बाद द्वितीय फॉर्म को आंगनवाड़ी केंद्र से प्राप्त करके भरना होगा। इसमें आपको पहले फॉर्म की फोटो प्रति की आवश्यकता होगी द्वितीय फॉर्म के भरने के बाद उसे आंगनवाड़ी केंद्र में ही जमा कराना होगा तथा फॉर्म के अप्रूव होते ही ₹2000 की किस्त आपके बैंक खाते में प्राप्त हो जाएगी।

5.  तृतीय किस्त को प्राप्त करने के लिए बच्चे की सभी टीकाकरण के दस्तावेजों को आंगनवाड़ी केंद्र में जमा करवाना होगा। तथा प्रथम व द्वितीय फॉर्म की फोटो प्रति भी साथ में लगानी होगी। इस फॉर्म के अप्रूव होते ही ₹3000 की किस्त आपके बैंक बचत खाते में प्राप्त हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *