लॉकडाउन में फंसे राजस्थान के मजदूर ऐसे करें घर वापसी के लिए करे ऑनलाइन आवेदन | Rajasthan Migrant Workers Return Registration

By | October 12, 2020

लॉकडाउन में फंसे राजस्थान के मजदूर ऐसे करें घर वापसी के लिए आवेदन:- राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के लोगो को घर वापस बुलाने की अनूठी पहल जारी की है जिसके तहत वो लोग जो अपने घरो से दूर कही और कमाते है या किसी काम से गये हुए थे और इस कोरोना वायरस के लोक डाउन के चलते अन्यत्र स्थान पर फँस गये है उनके लिए सरकार ने ये व्यवस्था की है | इसके लिए दूसरी जगह फंसे हुए लोगो को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा जिसके बाद ही राजस्थान सरकार उन लोगो को वहा से लाने या ले जाने की सुविधा मुहैया करवाएगी | विभागीय जानकारी के अनुसार अभी तक राजस्थान सरकार को इस वेबसाइट पर ऐसे सात लाख लोगो के आवेदन मिल चुके है जिनमे से कुछ तो राजस्थान के बाहर गये हुए थे जो वापस राजस्थान लौटना चाहते है और कुछ अन्य राज्यों के लोग जो बाहर से आये थे वो वापस अपने स्टेट में जाना चाहते है | इसके साथ ही राज्य सरकार ने केंद्र से गुहार लगायी है कि ट्रेन व्यवस्था को किसी नियत समय और दिन पर शुरू किया जा सके ताकि एक साथ बहुत से लोगो को अपने राज्य वापस भेजने में राज्य सरकार को बहुत ज्यादा मात्र में वाहनों का इंतजाम ना करना पड़े | क्योकि उससे भी लोक डाउन भंग होता है

लॉकडाउन में फंसे राजस्थान के मजदूर ऐसे करें घर वापसी के लिए आवेदन

लॉकडाउन में फंसे राजस्थान के मजदूर ऐसे करें घर वापसी के लिए आवेदन

लॉकडाउन में फंसे राजस्थान के मजदूर ऐसे करें घर वापसी के लिए आवेदन

आवेदनकर्ताओ के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट

  • आवेदनकर्ता का अपना पहचान पत्र या आधार कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस
  • नागरिक किस जगह पर फसा हुआ है उसका पूरा पता
  • आवेदन कर्ता का पूरा स्थायी एड्रेस

साकार द्वारा घर वापसी करने की शर्ते

  • जो नागरिक इस लोक डाउन में कहीं और फस गया है तो यदि सरकार उसे घर भेजने की व्यवस्था करवाती है तो उसे अपनी पूरी मेडिकल जांच करवानी होगी और लगभग 14 या 15 तक अपने आप को आइसोलेट रखना होगा | इसके अलावा सरकार जिस भी साधन से उसे घर लेकर आएगी उस व्यक्ति को उसी साधन से घर आना पड़ेगा

सरकार ने एक आदेश ये भी जारी किया है की दुसरे राज्य से आने वाले नागरिको के पास यदि  अपना खुद का वाहन है तो वो अनुमति लेकर अपनी सुविधानुसार आ सकते है पर राजस्थान में वापस आते ही उन्हें स्वास्थ्य विभाग के सामने प्रस्तुत होना होगा और आवश्यक जांच करवानी होगी और ठीक इससे तरह जो लोग भी यहाँ से अपने स्थान पर भेजे जायेगी| उनकी भी पूरी चिकित्सकीय जांच के बाद भी यहाँ से भेजा जाएगा | हालांकि सरकार ने 1000 से ज्यादा बसों की व्यवस्था करके पहले ही कई मजदूरों को अपने घरो पर पंहुचा चुकी है

लोक डाउन में राजस्थान सकरार द्वारा जारी हेल्पलाइन

राजस्थान में जो लोग लोक डाउन की वजह से अपने घरो में ही है और यदि उनमे से कोई बीमार पड़ जाता है तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसके लिए उनके घर पर ही दवा भेजनी की भी व्यवस्था करवा रखी है और इसके लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया गया जिसमे रोगी फ़ोन करके अपनी समस्या बता सकता है और फिर उसके द्वरा बताई गयी लोकेशन पर ही उसकी दवाई पहुंचा दी जायेगी

हेल्पलाइन नंबर – 0141-2228600

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *